शिवसेना के बाद अब इस दल ने भाजपा को छोड़ने का किया एलान ,भाजपा में मची खलबली

महाराष्ट्र में बीजेपी की सहयोगी दल शिवसेना बीते काफी समय से नाराज चल रही है। लेकिन जैसे-जैसे लोकसभा चुनाव नजदीक आ रहे हैं। बीजेपी अपने सहयोगी पार्टियों को मनाने में जुट गई है क्योंकि वह जानती है कि क्षेत्रीय इलाकों में उन पार्टियों के साथ गठबंधन के बिना बीजेपी वहां जीत नहीं सकती है। गौरतलब है कि शिवसेना बीते काफी समय से यह अल्टीमेटम दे रही है कि वह आने वाले लोकसभा चुनाव में बीजेपी के साथ गठबंधन करके नहीं लड़ने वाली वह साल 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव में अकेले और अपने दम पर चुनाव लड़ेंगे।

1- बीजेपी से अलग होने जा रही शिवसेना

अब खबर सामने आ रही है कि शिवसेना जल्द ही बीजेपी से अलग होने जा रही है। जिसके चलते बीजेपी सकते में आ गई है और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह की चिंता बढ़ती नजर आ रही है। आपको बता दें कि शिवसेना के साथ साथ अब एक और पार्टी ने भी बीजेपी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। उन्होंने भी बीजेपी से अलग होने की बात कह डाली है।

2- चिंता में डूबे अमित शाह

यह पार्टी है बिहार की राजनीति और एनडीए की सहयोगी पार्टी लोक जनशक्ति पार्टी। इस मामले में पार्टी अध्यक्ष रामविलास पासवान के बेटे चिराग पासवान ने यह ऐलान कर दिया है कि वह जल्द ही बीजेपी से अलग हो सकते हैं। क्योंकि बीते काफी वक्त से बीजेपी उन्हें नजरअंदाज करती आ रही है और उनकी मांगों को भी स्वीकार नहीं किया जा रहा।

3- एक और पार्टी हो रही बीजेपी से अलग

इसी के चलते उन्होंने बीजेपी से अपनी राहें अलग करने का फैसला ले लिया है। आपको बता दें कि बीते काफी समय से देशभर में दलितों के मुद्दों को उठाया जा रहा है। लेकिन देश के दलित बीजेपी से बिल्कुल ना खुश हैं और आने वाले चुनाव में उन्होंने बीजेपी को वोट ना देने का फैसला भी ले लिया है।

4- चिराग पासवान ने कही ये बड़ी बात

इसी के चलते चिराग पासवान ने भी मोदी सरकार को यह चेतावनी दे दी है कि वह दलित समुदाय के लोगों की मांगे स्वीकार करें या फिर वह और उनकी पार्टी बीजेपी से अलग हो जाएगी। आपको बता दें कि हाल ही में चिराग पासवान और आरजेडी नेता तेजस्वी यादव के बीच भी बातचीत हुई थी और ऐसे कयास लगाए जा रहे हैं कि यह दोनों पार्टियां लोकसभा चुनाव के लिए गठबंधन कर सकती हैं।

Facebook Comments