शक्तिशाली देश को ठिंगा दिखाते हुए एरदोगान ने उठाया ये कदम, विरोधियों में दहशत

दुनियाभर में तुर्की की ‘तूपराश कम्पनी’ है जो, इस्लामी गणतंत्र ईरान से तेल आयात करती है। तुर्की ने अमेरिकी द्वारा लागये गए सभी प्रतिबंधों को नजरअंदाज करते हुए,प्रतिबंधों से छूट लेने की मांग भी की है।

1- ईरान से तेल आयात पर अमेरिका की धमकी

वही आपको बता दे कि, अमेरिका ने 4 नवंबर तक ईरान के तेल आयात को शून्य करने की बात कही है और इस संबंध में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रम्प ने तो भारत और चीन सहित दुनिया भर के देशों को धमकी भी दे डाली है कि अगर किसी ने ईरान से तेल ख़रीदा तो वॉशिंग्टन उसके ख़िलाफ़ कार्यवाही करेगा।

2- ईरान को सबक सिखाना चाहता है अमेरिका

आपको बता दे की,1979 की इस्लामी क्रांति के बाद अमेरिका के पिट्ठू कहे जाने वाले शाह मोहम्मद रजा पहलवी को अपदस्थ कर, आयतुल्लाह रूहोल्लाह खोमैनी के अधीन इस्लामिक गणतंत्र की स्थापना हुई थी, तभी से अमेरिकी और ईरान के बीच सम्बंधो में खटास होनी शुरू हो गयी थी और वह अभी भी इस हद तक है कि अमेरिका ईरान को हमेशा सबक सिखाने की तलाश में रहता है।

3- तुर्की की तेल आपूर्ति करता है ईरान

तुर्की में जब भी तेरी की सत्ता पड़ती है हमेशा इरानी उसके साथ होता है ।सितंबर महीने मे तुर्की ने ईरान से तेल निर्यात में बढ़ोत्तररी करतर हुए,1 लाख 33 हज़ार बैरल किया था और वही अगस्त महीने में ईरान से 97 हज़ार बैरल कच्चा तेल निर्यात किया है। इन आंकड़ों से और तुर्की के ऊर्जा प्राधिकरण के अनुसार यह बात उभर कर सामने आती है कि, तुर्की ने जारी वर्ष के पहले चार महीनों में अपने 55 प्रतिशत कच्चे तेल की आवश्यक आपूर्ती को ईरान के ज़रिए पूरा किया है।

4- भारत और तुर्की को ईरान से तेल आयात पर नहीं मिलेगी छूट

अगर बात की जाए भारत की तो, भारत तेल का तीसरा सबसे बड़ा आयातक देश है।अमरीका तो अभी तेल के निर्यात के बाज़ार में आया है। भारत उनसे बहुत कम तेल मंगाता है, वहां से तेल लाने में बहुत वक्त लगता है। ईरान, इराक, सऊदी अरब, ओमान, जैसे देश भारत के नज़दीक भी हैं और पारंपरिक रूप से इनसे संबंध अच्छे भी रहे हैं। अमेरिका के डोनाल्ड ट्रंप प्रशासन के एक अधिकारी ने कहा है कि भारत और तुर्की जैसे देशों को ईरान से तेल के आयात पर कोई छूट नहीं मिलेगी। ट्रंप सरकार का मानना है कि अगर इन देशों को कोई छूट दी गई तो ईरान पर लगाए गए प्रतिबंध बेअसर साबित होंगे।

Facebook Comments