विवेक तिवारी कांड मामले में सना खान ने आखिरकार बोल दिया सच, बढ़ गई इतने लोगों की मुश्किलें

जयपुर। उत्तर प्रदेश में विवेक तिवारी की फ़र्ज़ी एनकाउंटर में हुई हत्या ने अब नया मोड़ ले लिया है. इस मामले में पुलिस की कार्यवाही की कड़ी निंदा हो रही है लेकिन बेशर्म पुलिस के लोग अभी भी हत्यारे का समर्थन करते नज़र आ रहे हैं. आपको बता दें कि इस मामले में पुलिस की कार्यवाही संदेह के घेरे में रही है.

1- सना खान पर भी उठे सवाल

इस मामले में सना खान पर भी सवाल उठे थे. सना और विवेक दोनों रात में साथ आ रहे थे जब ये घटना घटी. पुलिस का सबसे पहला दावा था की विवेक और सना आपत्तिजनक हालत में थे जिस बात को लेकर भी कई सवाल खड़े हुए थे. सना ने अब इस बारे में बड़ा बयान दिया है.

2- सना ने दिया चौंकाने वाला बयान

सना खान ने एक चौंकाने वाला बयान दिया है. ये बयान आपके होश उड़ा देगा. सना ने बताया कि सबसे पहले दोनों पुलिसवालों ने हमारी कार के आगे आकर अपनी सफेद अपाचे खड़ी कर दी.उन्होंने कहा कि इसके बाद उनमें से एक लाठी वाला कांस्टेबल हमारे पास आया और मुझसे बदतमीजी करने लगा.विवेक इस बात को समझ गया कि यहाँ रुकना ठीक नहीं है, ऐसे में उसने गाड़ी आगे बढ़ा दी. सामने खड़े एक अन्य कॉन्स्टेबल ने उन पर गोली चला दी. सना ने बताया कि हालांकि विवेक सर ने मुझे बचाने के लिए गाड़ी को रोका नहीं तथा वह जब तक बेहोश नहीं हुए तब तक आगे बढ़ाते रहें.

3- विवेक ने गोली लगने के बाद भी चलाई गाड़ी

विवेक ने गोली लगने के बाद भी गाड़ी नहीं रोकी. सना के मुताबिक विवेक ने तक़रीबन आधे मिनट तक गोली लगने के बाद भी गाड़ी चलाई. इसके बाद वो बेहोश हो गया और उनका सर एक तरफ झुक गया. इस समय उनकी साँसें चल रही थीं.

4- सना के बयान से पुलिस की खुली पोल

खुले सांड की तरह घूम रही पुलिस ने एक बार फिर साबित कर दिया है कि वो जनता की रक्षा नहीं करने वाली बल्कि उन पर गोलियां चलाने वाली है. इतना ही नहीं दोषी पुलिसवाले के समर्थन में पुलिस जिस तरह से खड़ी है निंदनीय है.

Facebook Comments