VIDEO: राजस्थान में नरबलि के बाद जुलूस निकालने की बात बताती हुई इस वायरल फोटो का सच

सोशल मीडिया खबरों का एक ऐसा अड्डा बन चुका है। जहां पर सच्ची और झूठी दोनों तरह की खबरें वायरल होती रहती हैं। गौरतलब है कि यूं तो सोशल मीडिया एक ऐसा प्लेटफॉर्म है जहां ऐसी खबरें भी सामने आती हैं जो मेंस्ट्रीम मीडिया द्वारा नहीं दिखाई जाती। लेकिन सुबह मीडिया के जरिए ही आजकल फर्जी खबरों को भी काफी धड़ल्ले से फैलाया जा रहा है।

1- राजस्थान से सामने आई चौकाने वाली खबर

हाल ही में हमारे सामने एक वीडियो आई है जिसमें यह दिखाया जा रहा है कि एक बच्चे के सर को अर्थी पर ले जाया जा रहा है। इस वीडियो में नजर आ रहा है कि बच्चे की अर्थी के साथ कई लोगों की भीड़ भी है और अर्थी के आगे एक शख्स तलवार लिए हुए चल रहा है जिस पर खून भी लगा नजर आ रहा है।

2- वीडियो देख बौखलाए लोग

इस वीडियो में लिखा हुआ नजर आ रहा है कि राजस्थान के भीलवाड़ा जिले के गंगापुर थाना क्षेत्र के खकरा गांव में एक बच्चे की बलि दी गई है। द विलेज न्यूज नाम के एक फेसबुक पेज ने इस वीडियो को शेयर किया हुआ है। जिसमें लिखा है कि राजस्थान के भीलवाड़ा क्षेत्र में एक मासूम बालक की बलि चढ़ाई गई है और इसके बाद जुलूस निकाला गया है। बालक का चेहरा देखकर आपको रोना आ जाएगा इन अंधविश्वासी यों से सवाल करना चाहिए कि इस बच्चे का क्या कसूर था।

3- सामने आया बच्चे की बलि का सच

लेकिन अब हम आपको इस वीडियो से जुड़ी सच्चाई बताने जा रहे हैं दरअसल इस मामले में पड़ताल करने पर पता चला कि राजस्थान के भीलवाड़ा क्षेत्र में इस तरह की कोई भी घटना नहीं हुई है बल्कि हर साल की तरह यहां पर भी नवरात्रि के दिनों में जादू और कर्तव्य करने के मकसद से नाटकीय रूप में यहां पर एक जुलूस निकाला गया था जिसमें किसी बच्चे की बलि नहीं दी गई है।

4- राजस्थान में नहीं हुई ऐसी कोई घटना

उनका कहना है कि खाकरा गांव बीते कई सालों से अपने जादू और करतबों के लिए पूरे देश में मशहूर है। बताया जा रहा है कि इस वीडियो की सच्चाई सामने आने के बाद लोगों का ऐसे झूठ और अंधविश्वास से पर्दा उठ गया है। इसलिए आपको यह हिदायत दी जाती है कि सोशल मीडिया पर वायरल होने वाली सभी वीडियोस को सच ना माने और इसकी जांच होने तक किसी भी तरह की प्रतिक्रिया ना दें।

Facebook Comments