राफेल डील को लेकर फ्रेंच वेबसाइट का नया दावा, किया बड़ा खुलासा

पिछले लोकसभा चुनाव के दौरान सत्ता हासिल करने के लिए भाजपा और मोदी ने करप्शन को बड़ा मुद्दा बनाया था लेकिन अब खुद मोदी सरकार इसमें घिरती हुई नजर आ रही है. दरअसल मोदी और अम्बानी के रिश्ते किसी से छुपे नहीं हैं. ऐसे में अब आरोप लगा रहा है कि मोदी सरकार ने अम्बानी को राफेल डील के ज़रिये फायदा पहुँचाया.

1. राफेल डील पर फंसी मोदी सरकार

ऐसे में एक तरफ जहाँ जनता मोदी से सवाल कर रही है तो दूसरी तरफ विपक्ष भी सरकार को इसे लेकर घेरने की कोशिश कर रहा है. बता दें कि प्रांस के पूर्व राष्ट्रपति के बयान के बाद मोदी सरकार के लिए मुश्किल खड़ी हो गई है. उन्होंने कहा था कि इस डील के लिए भारत सरकार ने सिर्फ अम्बानी की कंपनी का ही नाम आगे किया था.

2. फिर हुआ बड़ा खुलासा

बहरहाल, अब फ्रांस की मीडिया वेबसाइट ने एक और बड़ा खुलासा किया है. इस वेबसाइट ने रिपोर्ट के हवाले से दावा किया गया है कि दसॉल्ट के सामने राफेल डील के लिए कोई विकल्प नहीं था, सिवाय अंबानी की कंपनी रिलायंस के.


 

3. अनिल अम्बानी को पहुँचाया फायदा

दसॉल्ट ने कहा है कि जब प्रतिनिधि ने अनिल अंबानी की कंपनी का दौरा किया तो हम सभी हैरान हो गए क्योंकि अनिल अंबानी की कंपनी रिलायसं के पास महज़ एक वेयर हाउस था. दसॉल्ट ने कहा है कि रिलायंस के पास इसके अलावा सुविधा के नाम पर कुछ नहीं था.

बता दें कि फ़्रांस के पूर्व राष्टपति ने साफ़ कर दिया था भारत सरकार ने उसके पास कोई विकल्प नहीं छोड़ा था. उन्होंने कहा था कि एक तरह से भारत ने अनिल अम्बानी की कंपनी रिलायास को हमारे ऊपर थोपा था. बता दें कि इस पूरे मामले के बाद सोशल मीडिया से लेकर आम जनता तक मोदी सरकार से सवाल कर रही है लेकिन हर बार की तरह इस बार भी मोदी सरकार ने चुप्पी साध ली है.

Facebook Comments