Mobile Phone Addiction – By Sandeep Maheshwari In Hindi

40

Mobile Phone AddictionMobile Phone Addiction क्या ये ? problem नहीं है. बिल्कुल है. और ये एक ऐसी problem है जो आज कल हर किसी व्यक्ति को है चाहे वो लड़की या फिर लड़का बड़ा या फिर जवान. लेकिन खास कर की ये Mobile Phone Addiction Teenagers में इतनी फ़ैल रही है कि वो लोग अपनी education तो ठीक है अपनी health का ध्यान रखना तक भूल गए है. क्योंकि Mobile Phone में एक ऐसा virtual world है जिसमे हम 5 minute के लिए जाने कि सोचते है और इसमें इतने deeply चले जाते है कि कई घंटो तक लगातार इसमें लगे रहते है.

और ये Addiction इतनी गन्दी है कि हम लोग वर्ड का मीनिग ढूंढने के लिए इस फ़ोन को उसे करते है और वर्ड तो ढूंढ लेते है लेकिन आदत से मजबूर होने के कारण हम सोचते है कि फेसबुक पर चेक कर लेते है कि कितने लाइक्स और कमैंट्स मिले है और इस तरह से mind divert हो जाता है कि हम जिस काम के लिए mobile phone को use करते है उसे छोड़कर बांकी काम में लग जाते है. कई लोग पूछते है हमें Mobile Phone addiction हो गया है जिसकी वजह से mobile के बिना उनका ध्यान किसी में नहीं लगता है और जब उन्हें अपना mobile नहीं मिलता है तो पागलों कि तरह उस mobile को ढूंढने में लग जाते है और इसलिए वो अपने carrier से दूर होते चले जाते है लेकिन इसका इलाज क्या है ? ये जानना बहुत जरूरी है.

Mobile Phone Addiction – By Sandeep Maheshwari In Hindi

तो Mobile Phone के Addiction से छुटकरा पाना आसान नहीं क्योंकि आपको इससे छुटकारा पाने के कोई Extreme Step नहीं लेने है क्योंकि ये Step आपके लिए कुछ समय के लिए फायदेमंद हो सकते है लेकिन life time  के लिए इन्हे follow नहीं किया जा सकता है जैसे आप यदि आप यदि अपने parents को अपना mobile phone दे देते हो तो शायद ये अच्छा हो सकता है लेकिन कुछ समय तक के लिए जैसे exam time पर for example यदि आप Extreme  steps लेने की सोच रहे हो तो एक बार गौर करें की आप dieting एक या दो दिन कर सकते है लेकिन life time तो Dieting नहीं कर सकते है. और भी तरीके है जो आपको इस Mobile Phone Addiction से छुटकारा दिला सकते है.

जैसे आप Exam पर बहुत तेजी से पढ़ने लगते हो जैसे मुझे पढ़ना या पास होना है तो ये आप motivation की वजह से नहीं कर रहे हो बल्कि ये आप fear की वजह से कर रहे हो. क्योंकि आपको Fear होता है यदि मैं fail हो गया तो बहुत बदनामी होगी या घर वाले डांटेंगे. ये डर Fear है. Motivation,Fear और Inspiration में बहुत अंतर है यदि आप इस अंतर Difference को समझ जाते है तो आप अपनी Life में वो सब कुछ कर सकते है जो आप चाहते है अंतर ये कि यदि आप Motivated होते है तो आप study पुरे साल भर करते न कि Exam Time से कुछ महीनो या फिर दिनों पहले क्योंकि ये सब हम डर के कारण करते है क्योंकि हमें Fear होता है.

Mobile Phone Addiction – By Sandeep Maheshwari

लेकिन यदि कोई व्यक्ति बिना डर से अपने लक्ष्य के प्राप्ति के लिए मेहनत करता है तो उसकी मेहनत बेकार नहीं जाती है. और यदि आप सोचते है कि यदि खुद से बोलता रहूँ !! कि मुझे ये Mobile Phone Use नहीं करना है !! नहीं करना है !! तो इससे कुछ नहीं होने वाला क्योंकि Mind इस तरह से Set है कि जिस काम के लिए मना किया जाता है हम वही काम करते है. और आप सोचते है Mobile Phone में Password लगा कर या फिर Mobile phone में से Whats-aap , face-book जैसे application  को Uninstall कर इसकी लत से छुटकारा पाया जा सकता है या फिर कोई basic सा Phone Use करके इस Mobile Phone Addiction से छुटकारा पाया जा सकता है तो आप गलत है क्योंकि addiction लगने में जितना time  लगता है उसे छूटने में भी उतना ही time लगता है जब तक कि आप के लिए आपका Goal एक desire न बन जाएँ.

इसलिए यदि आप Mobile Phone Addiction से छुटकारा पाना चाहते है तो आप एक काम कर सकते है आप mobile को reward कि तरह use करें जैसे आप सोचते है यदि मैं दो घंटे पढ़ने के बाद आधा घंटा mobile Use करूँ तो मुझे ख़ुशी मिल जाएँगी क्योंकि Mind को यदि किसी काम करने के लिए लालच दिया जाए तो वो उस काम को मन लगा करता है. क्योंकि बचपन से addiction है कि पास होने पर ये मिलेगा वो मिलेगा. यदि आप इसी तरह अपने आप को reward दें और पढाई पूरी करने के बाद Mobile का use करें तो शायद आपकी Addiction दूर हो जाएँ. लेकिन किसी भी चीज कि लत बुरी ही होती है लेकिन इस लालच की से एक फायदा ये है कि आप ने दो घंटे पढाई की लेकिन अच्छा काम भी तो किया है.

और एक और बात आप लोगो को अपने मन से Fear निकल देना है क्योंकि यदि आप डर कर कोई भी काम करते है तो आप में और जानवरों में कोई फर्क नहीं रह जायेगा. क्योंकि एक खच्चर को भोजा डोना पसंद नहीं है लेकिन फिर भी वो मन मार के उस काम को करता है वो बंधा हुआ है. लेकिन आप तो जानवर नहीं हो ना आप लोग तो स्वतंत्र हो आप अपनी Desire की वजह से बंधे हुए हो अपनी desire को बदलो सब बदल जायेगा. यदि आप सोच लेते है मुझे कुछ करना है तो आपको इस दुनिया में कोई नहीं जो रोक सके बस अपनी सोच को बदलने की कोशिश करों बाहर से नहीं बल्कि खुद को अंदर से बदलो. Mobile phone Addiction – By sandeep maheshwari