बड़ा सर्वे : दिल्ली मुख्यमंत्री पद के लिए ये है जनता की पहली पसंद

दिल्ली की सियासत में सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर हाल ही में एक सर्वे किया गया था जिसमें दिल्ली के लोगों ने अरविंद केजरीवाल को ही सबसे पसंदीदा मुख्यमंत्री चुना है आपको बता दें कि यह सर्वे इंडिया टुडे पॉलीटिकल स्टॉक एक्सचेंज के साथ में संस्करण के लिए किया गया था जिसमें दिल्ली के 47 फ़ीसदी प्रतिभागियों ने मुख्यमंत्री के लिए अरविंद केजरीवाल को पहली पसंद बताया है।

1- दिल्ली में जनता की पसंद बने केजरीवाल

आपको बता दें कि 11 से 17 अक्टूबर के बीच हुए सर्वे के मुताबिक दिल्ली में 47 फीसदी वोटर अरविंद केजरीवाल को ही मुख्यमंत्री के तौर पर आगे भी कमान संभालते देखना चाहते हैं। लोकप्रियता के मामले में वो अपने प्रतिद्वंद्वी और दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित से कहीं आगे हैं।

2- अगले मुख्यमंत्री को लेकर हुआ था सर्वे

इंडिया टुडे माय इंडिया के पीएससी सर्वे के मुताबिक दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल के नेतृत्व वाली सरकार के कामकाज से दिल्ली के 40 पीस दी वोटर पूरी तरह से संतुष्ट हैं। जबकि 35 पीस दी प्रतिभागियों ने केजरीवाल के कामकाज से संतुष्टि जताई है वहीं 21 परसेंट प्रतिभागियों ने इसे औसत बताया है।

3- शीला दीक्षित आई दुसरे नंबर पर

आपको बता दें कि इस कड़ी में शीला दीक्षित को 19 फीसदी वोटरों ने ही मुख्यमंत्री के तौर पर दोबारा आने के लिए चुना है। वहीं बीजेपी नेता और केंद्र मंत्री डॉ हर्षवर्धन को 13 फ़ीसदी लोगों ने वोट डाले हैं इस कड़ी में बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी को 9 फ़ीसदी वोटरों ने मुख्यमंत्री के लिए चुना है।

4- राफेल डील पर लोगों ने दी ऐसे प्रतिक्रिया

आपको बता दें कि इससे सर्वे में राफेल डील के बारे में भी लोगों से बातचीत की गई है जिसमें से 63 फ़ीसदी प्रतिभागियों का कहना है कि उन्होंने इसके बारे में नहीं सुना है जबकि 37 फीसदी वोटरों को राफेल डील के बारे में जानकारी थी। जिन्होंने राफेल डील के बारे में सुन रखा था। इसमें से 19 फीसदी का वोटरों का मानना है कि राफेल डील में भ्रष्टाचार नहीं हुआ। वहीं, 18 फीसदी लोग मानते हैं कि डील में भ्रष्टाचार हुआ।

Facebook Comments