इनकम टैक्स डिपार्टमेंट चीफ अचानक पहुंचे दारुल उलूम देवबंद, जानिए पूरा मामला

हिंदुस्तान के इतिहास में दारुल उलूम देवबंद का अपना इतिहास रहा है. भारत की आज़ादी की लड़ाई में में दारुल उलूम देवबंद ने अहम रोल रहा है. हालाँकि इसे लेकर युवा पीढ़ी को जानकारी का अभाव है लेकिन जिसे इसके इतिहास के बारे में पता है, वह एक बार यहाँ ज़रूर आने का सपना रखता होगा. दरअसल अपनी इसी उत्सुकता को लिए इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के वरिष्ठ अधिकारियों ने यहाँ का दौरा किया.

1. अधिकारीयों ने किया दारुल उलूम देवबंद का दौरा

इस दौरान इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के चीफ कमिश्नर ने यहाँ का दौरा किया. इस दौरान आये प्रतिनिधिमंडल ने दारुल उलूम देवबंद मोहतमिम मुफ्ती अबुल कासिम नौमानी से मुलाकात की. इस दौरा ने मोहतमिम मुफ्ती अबुल कासिम नौमानी ने आये इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के वरिष्ठ अधिकारियों को संस्था के बारे में दिलचस्प जानकारियाँ दी और आजादी की लड़ाई में दारुल उलूम देवबंद के रोल को बारे में बताया.

2. आज़ादी की लड़ाई में है अहम योग्यदान

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के चीफ कमिश्रर रजनीकांत गुप्त ने इसके बारे में काफी गौर से सुना और दारुल उलूम देवबंद के दिलचस्प बातों पर गौर किया. मुलाकात के दौरा उन्होंने कहा कि वह काफी दिनों से दारुल उलूम देवबंद आने के बारे में सोच रहे थे लेकिन कभी उन्हें मौका नहीं मिल पाया. इस दरुआन इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के चीफ कमिश्रर रजनीकांत गुप्त ने दारुल उलूम देवबंद मोहतमिम मुफ्ती अबुल कासिम नौमानी के साथ संस्था की एतिहासिक इमारतों का दौरा किया. इस दौरान उन्होंने दारुल उलूम देवबंद की मशहूर लाईब्रेरी का भी दौरा किया, जहाँ पर आजादी की लड़ाइयों के बारे में दिलचस्पइतिहास समेटे किताबे मौजूद हैं.

3. देखीं एतिहासिक इमारतें

इस दौरान इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के अधिकारियों के साथ साथ उनकी चीफ कमिश्नर की पत्नी भी मौजूद थीं. बता दें कि दारुल उलूम देवबंद का इतिहास आजादी की प्रथम लड़ाई के साथ जुड़ा हुआ है लेकिन आज कल नफरत की परवान चढ़ती इस सियासत ने इसे एक तबके की पहचान भर से जोड़ कर रख दिया है.

Facebook Comments