कांग्रेस ने घोषित किया उम्मीदवार, अटल की भतीजी को लेकर लिया बड़ा निर्णय

देश में होने वाले आगामी लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा शासित राज्य छत्तीसगढ़ में भी विधानसभा चुनाव होने हैं. बता दें कि इसके साथ ही और भी कई राज्यों में विधानसभा चुनाव होने वाला है. ऐसे में अब पार्टियाँ लोकसभा चुनाव से पहले इन विधानसभा चुनाव पर फोकस कर रही हैं. वहीँ इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता है कि इन विधनासभा चुनाव के नतीजों का असर ज़ाहिर तौर पर लोकसभा चुनाव के नतीजों पर पड़ने वाला है.

1. चुनाव में कांटे की टक्कर

ऐसे में कोई भी पार्टी इन चुनाव में कोई भी कोताही नहीं बरतना नहीं चाहती हैं. बात अगर मध्य प्रदेश की करें तो वहां पर भाजपा की स्थिति कुछ ख़ास ठीक नहीं दिख रही है. वहीँ दिलचस्प बात यह हैं कि वहां पर कांग्रेस का उभार दिख रहा है. कमोबेश यही स्थिति छत्तीसगढ़ में भी देखने को मिल रही है. ऐसे में अब भाजपा क इन राज्यों में मोदी और अमित शाह की सहारा है.

2. सीएम के खिलाफ कांग्रेस ने उतारा उम्मीदवार

क्योंकि इन दोनों राज्यों में कांग्रेस और राहुल गाँधी की लोकप्रियता लगातार बढ़ती जा रही है. वहीँ भाजपा सरकार से जनता ख़ासा नाराज़ दिख रही है. इस बीच अब कांग्रेस ने इन राज्यों में अपनी पूरी ताकत झोंख दी है. अब कांग्रेस ने पहले चरण के चुनाव के लिए अपने उम्मीदवारों का ऐलान कर दिया है.

 

3. अटल की भतीजी लड़ेंगी चुनाव

इसमें सबसे ज्यादा चर्चा राजनादगांव विधानसभा सीट की हो रही थी. दरअसल राजनादगांव विधानसभा सीट पर सीएम डॉ. रमन सिंह चुनाव लड़ रहे हैं. ऐसे में अब कांग्रेस ने भी इस सीट पर अपने उम्मीदवार का ऐलान कर दिया है. खबर के मुताबिक़, कांग्रेस ने इस सीट पर पूर्व प्रधानमंत्री और भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी की भतीजी करुणा शुक्ला को चुनावी मैदान में उतारा है. बता दें कि अटल बिहारी वाजपेयी की भतीजी करुणा शुक्ला ने बीते टिकट को लेकर भाजपा से नाराज़गी के बाद कांग्रेस का हाथ थामा था.

Facebook Comments