यूपी में शराब को लेकर सीएम योगी ने लिया ये बड़ा फैसला, 6 अक्टूबर से …

यूपी के पिछले विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा ने तम जनवादी वादे किये थे और मोदी की तरह अच्छे दिन लाने का वादा किया गया था लेकिन अब सूबे की सत्ता पर भाजपा को काबिज़ हुए काफी समय हो चुका है और फिलहाल भाजपा और सीएम योगी ने वही वादे गाहे बगाहे पूरे किये हैं, जिनसे समाज में नफरत फैले और हिंदूवादी नेताओं हौंसले बुलंद हो.

1. शराबियों के लिए खुशखबरी

फिलहाल योगी राज में प्रदेश की कानून व्यवस्था चरमरा गई है और इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता है कि पिछली सरकार के मुकाबले इस सरकार में कमोबेश हर वर्ग किसी न किसी लिहाज़ से परेशान हो रहा है. फिलहाल जनता को योगी सरकार से अच्छे दिन का इंतज़ार है.

2. योगी सरकार ने लिया बड़ा फैसला

इस बीच आम जनता के लिए तो सरकार ने अभी कोई लाभदायक योजना का ऐलान नहीं किया है लेकिन शराबियों के लिए ज़रूर रहत भरे कदम उठा लिए गए हैं. दरअसल सरकार ने शराबियों की बड़ी मुश्किल हल कर दी है. अब उन्हें और सस्ते दामों में शराब मिलेगी.

3. शराब मिलेगी सस्ती

खबर है कि योगी सरकार के नए फैसले के बाद अब उत्तर प्रदेश से लेकर राजधानी दिल्ली और हरियाणा और केंद्र शासित प्रदेश चंडीगढ़ में एक रेट पर शराब मिलेगी. दरअसल सरकार ने कालाबाजारी रोकने के लिए यह कदम उठाया है.

फिलहाल सरकार ने इस मुद्दे पर सहमती जता दी है. उम्मीद की जा रही है कि जल्द ही नई दरें लागु की जाएँगी. ऐसे में बताया जा रहा है कि सरकार के कदम से बहुत हद तक शराब की कालाबाजारी पर रोक लगाई जा सकती है. वहीँ इसकी वजह से सरकार को मिलने वाले राजस्व पर भी असर पड़ेगा.

बता दें कि कलाबाजी की वजह से यूपी में शराब काफी महंगी मिलती है. इसकी कई रिपोर्ट सामने आने के बाद योगी सरकार ने यह कदम उठाया है. फिलहाल अब आम लोगों को उम्मीद है कि सरकार और भी कई चीज़ों में हो रही कलाबाजी पर रोक लगाएगी.

Facebook Comments