लोकसभा से पहले एबीपी ने किया सर्वे, चौकाने वाले परिणाम आये सामने

नई दिल्ली। साल 2019 में लोकसभा चुनाव होने हैं और इसके आधार पर ही देश की राजनीति का आगे का भविष्य तय होगा. आपको बता दें कि लोकसभा में अगर सबसे अधिक महत्वपूर्ण कोई राज्य है तो है उत्तर प्रदेश. उत्तर प्रदेश में लोकसभा की 80 सीटें हैं. इनमें जिसकी सीटें ज्यादा आएँगी वही दिल्ली की सत्ता पर काबिज़ होगा. फिलहाल यहाँ सबसे अधिक सीटें भाजपा की हैं. भाजपा के लिए लेकिन मुश्किल ये है कि ऐसी ख़बरें आम हैं की उत्तर प्रद्देह्स में सपा और बसपा मिलकर चुनाव लड़ने को हैं.

1- आ गया उत्तर प्रदेश का सर्वे

इस बीच एक ऐसा सर्वे आया है जिससे उत्तर प्रदेश की चुनावी स्थिति का पता चलता है. इस सर्वे में दावा किया गया है कि अगर सपा और बसपा अलग अलग चुनाव लडती हैं तो भाजपा यहाँ बड़ी पार्टी बनकर तो उभरेगी ही, बाकी पार्टियों का सफाया हो जाएगा. महागठबंधन बन्ने की स्थिति में भाजपा को बड़ा नुकसान तो होगा लेकिन कांग्रेस को बहुत फायदा होते नहीं नज़र आ रहा है.

2- बन गया महागठबंधन तो..

abp सी वोटर सर्वे में ये आया है कि 80 लोकसभा सीटों में से सबसे अधिक सीटें महागठबंधन को मिलेंगी. दूसरे स्थान पर भाजपा के रहने की उम्मीद है. इस सर्वे में आया है कि अगर यूपी में कांग्रेस महागठबंधन में शामिल होती है तो राज्य की 80 लोकसभा सीटों में से बीजेपी के खाते में 24 सीटें मिलने के आसार दिखाए गए हैं जबकि महागठबंधन के खाते में 56 सीटें मिलती दिख रही है। वहीं अगर कांग्रेस इस गठबंधन का हिस्सा नहीं बनी तो महागठबंधन की सीटें 42 आएँगी और भाजपा को 36 सीटें मिलेंगी.

3- बसपा अगर अकेले लड़ी तो..

यदि महागठबंधन से बसपा अलग होती है तो भाजपा को इसका बड़ा फायदा होगा और ये 70 सीटों पर कामयाब हो सकती है. आपको बता दें कि सर्वे की रिपोर्ट में आया है कि भाजपा के खाते में 70 सीटें आएँगी और कांग्रेस को 2 सीटें हासिल होंगी जबकि अन्य के खाते में 8 सीटें आएँगी. इस अन्य में सपा और बसपा शामिल हैं.

Facebook Comments